Local Job Box

Best Job And News Site

डब्ल्यूएचओ का कहना है कि कोरोना वायरस जानवरों से इंसानों में एक जानवर द्वारा प्रेषित किया गया है, वुहान लैब से लीक नहीं हुआ है डब्ल्यूएचओ का कहना है कि कोरोनोवायरस एक जानवर द्वारा मनुष्यों तक खाल से पहुंचा, न कि वुहान लैब से

विज्ञापनों द्वारा घोषित? विज्ञापनों के बिना समाचार पढ़ने के लिए दिव्य भास्कर ऐप इंस्टॉल करें

वाशिंगटन4 मिनट पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें
  • पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि वायरस वुहान की प्रयोगशाला से लीक हुआ था, लेकिन डब्ल्यूएचओ विशेषज्ञों ने संभावना से इनकार किया है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) की एक टीम ने एक बड़ा दावा किया है कि साल भर की बहस के बीच कि कोरोनोवायरस इंसानों में कैसे फैलता है। डब्ल्यूएचओ विशेषज्ञों का कहना है कि वायरस चमगादड़ से मनुष्यों में दूसरे जानवर (मध्यस्थ) के माध्यम से प्रेषित किया गया हो सकता है। विशेषज्ञों ने इस बात से इनकार किया है कि वायरस एक वुहान (चीन) लैब से लीक हुआ था।

वायरस की उत्पत्ति और डब्ल्यूएचओ विशेषज्ञों की राय पर दावा

  • पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि वायरस वुहान की प्रयोगशाला से लीक हो गया था। डब्ल्यूएचओ के विशेषज्ञों ने इस संभावना से इनकार किया है।
  • चीन ने कहा कि वायरस की उत्पत्ति नहीं थी, लेकिन यह आयातित जमे हुए भोजन के माध्यम से पहुंचा था। विशेषज्ञ ने संभावना से इंकार नहीं किया, लेकिन कहा कि यह बहुत संभावना नहीं थी।

डब्ल्यूएचओ ने कहा- वायरस की उत्पत्ति और एक अध्ययन की आवश्यकता पर
हालांकि, विशेषज्ञों की टीम ने उचित जवाब नहीं दिया कि वायरस आदमी तक क्यों पहुंचा। गौरतलब है कि डब्ल्यूएचओ के विशेषज्ञों की एक टीम कोरोना वायरस की उत्पत्ति के बारे में जानकारी लेने के लिए चीन गई थी। मंगलवार को एक विस्तृत रिपोर्ट जारी की जाएगी। डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक ट्रेडोस एडेनोम ग्रैबियस का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञ यह बताने के लिए एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे कि उनकी जांच में क्या सामने आया। इसके अलावा, उन्होंने कहा कि इस महामारी की उत्पत्ति पर आगे के अध्ययन की आवश्यकता है।

15 महीनों में दुनिया भर में 2.7 मिलियन लोग मारे गए हैं। पिछले साल विश्व सरकारों द्वारा कुल लॉकडाउन के लिए संक्रमण का कारण बना। इसे लेकर सख्ती अभी भी जारी है। लॉकडाउन ने भारत सहित दुनिया की अर्थव्यवस्था को चोट पहुंचाई है।

डब्ल्यूएचओ की जांच पर चीन ने आपत्ति जताई
चीन पर वुहान की लैब से दुनिया भर में कोरोनोवायरस फैलाने का आरोप लगाया गया था। WHO ने तब विशेषज्ञों की एक टीम को जांच के लिए चीन भेजा था। हालाँकि, चीन ने इस बार चिंता जताई। इससे विशेषज्ञों की रिपोर्ट में देरी हुई। जांच टीम को वुहान में प्रवेश पाने में कठिनाई हुई। टीम इस साल 14 जनवरी को वुहान पहुंची।

अन्य खबरें भी है …
Updated: March 30, 2021 — 6:01 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme