Local Job Box

Best Job And News Site

MP, ग्वालियर मुरैना में पत्नी, बेटे और बेटी की मौत के बाद फंसी मौत व्यापारी ने अपनी पत्नी, बेटे और बेटी की गला दबाकर हत्या कर दी, खुद को फांसी पर लटका लिया; कुछ दिन पहले ही उन्होंने 65 लाख रुपये का एक घर खरीदा था

विज्ञापनों द्वारा घोषित? विज्ञापनों के बिना समाचार पढ़ने के लिए दिव्य भास्कर ऐप इंस्टॉल करें

एक घंटे पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें

घटनास्थल पर भीड़ जमा हो गई थी

  • घटना की सूचना मिलते ही अभिभावक बेहोश हो गए

ग्वालियर के मुरारी शहर से एक दुखद घटना सामने आई है। यहां किराने की दुकान चलाने वाले सत्येश शर्मा ने अपनी पत्नी, बेटे और बेटी की गला दबाकर हत्या कर दी। बाद में उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। आज सुबह 9.30 बजे तक जब परिवार से कोई बाहर नहीं आया तो आसपास के लोगों को शक हुआ। मैंने दरवाजा खोला तो देखा कि एक ही कमरे में चार लोगों के शव पड़े हैं। व्यापारी के 3 भाई हैं और प्रत्येक अलग है। संपन्न परिवार ने कुछ दिन पहले ही मुरैना में 65 लाख रुपये में एक घर खरीदा था।

सत्यदेव शर्मा ने अपनी पत्नी उषा शर्मा, बेटे अश्विन और बेटी मोहिनी की गला दबाकर हत्या कर दी। बाद में उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस और फोरेंसिक विभाग ने घटनास्थल पर जाकर जांच की। घटना की जानकारी मिलते ही सत्यदेव के माता-पिता बेहोश हो गए। पुलिस सूत्रों के अनुसार, घटना के किसी प्राथमिक कारण की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है। इसके चलते पुलिस ने आसपास के लोगों से पूछताछ शुरू कर दी है।

फोरेंसिक विशेषज्ञ डॉ। अर्पिता सक्सेना ने कहा कि एक धारदार हथियार से गला रेतकर तीन लोगों की हत्या कर दी गई। युवक तब से लटका हुआ है।

पड़ोसी भी देखकर चौंक गए
82 वर्षीय पड़ोसी कलावती ने कहा, “मैंने उषा को रात 11 बजे देखा।” पार्टी में किसी भी तरह के विवाद की सूचना नहीं दी गई थी और हत्याओं के लिए कोई मकसद नहीं बताया गया है। सुबह 9 बजे दूधवाला आया और दस्तक दी लेकिन अंदर से कोई जवाब नहीं आया। तो दूध वाले ने पड़ोसी से कहा कि अंदर से कोई जवाब नहीं। तभी नीरज नाम का एक पड़ोसी पोचा के घर की छत पर गया और उसने देखा कि एक आदमी का पैर लटका हुआ है। नीरज घबराहट में चीखने लगा। तब लोगों की भीड़ जमा हो गई और उसने पुलिस को सूचना दी।

दो भवनों के साथ आठ बीघा जमीन
वे सत्यदेव सहित चार भाई हैं। चारों भाइयों के अलग घर हैं। एक भाई अपने पिता के साथ गाँव में रहता है। वह एक शिक्षक है। सत्यदेव के पास दो घर और आठ बीघा जमीन भी है। इसलिए पहली नज़र में यह आर्थिक समस्या का मुद्दा नहीं लगता।

घटनास्थल पर पुलिस

घटनास्थल पर पुलिस

अन्य खबरें भी है …
Updated: April 1, 2021 — 10:23 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme