Local Job Box

Best Job And News Site

24 घंटे में 63 हेक्टेयर जंगल खाली, केंद्र ने भेजा NDRF के जवान और हेलीकॉप्टर, अलर्ट जारी | केंद्र ने जारी किया अलर्ट, 24 घंटे में 63 हेक्टेयर जंगल जलाने के लिए एनडीआरएफ कर्मियों और हेलीकॉप्टरों को भेजा

विज्ञापनों द्वारा घोषित? विज्ञापनों के बिना समाचार पढ़ने के लिए दिव्य भास्कर एप्लिकेशन इंस्टॉल करें

देहरादून2 मिनट पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें

उत्तराखंड में पिछले 24 घंटों में 45 नए जंगल फैल गए हैं।

  • धमाके से 63 हेक्टेयर जंगल घिर गया

उत्तराखंड में जंगल की आग भड़की हुई है। यह पिछले 24 घंटों में 45 नए जंगलों में फैल गया है। इस विस्फोट से 63 हेक्टेयर जंगल घिर गया है। इसे रोकने के लिए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने केंद्र से मदद मांगी है। मामले को गंभीरता से लेते हुए केंद्र ने दो हेलीकॉप्टर और NDRF के जवानों को उत्तराखंड भेजा है।

दरअसल, कॉर्बेट नेशनल पार्क के जंगलों में भी आग लगने का खतरा बढ़ गया है। शनिवार रात तक राम नगर वन विभाग के मोहन के पास जंगल में आग लग गई। तराई पश्चिम वन विभाग के सावलडे में हल्दुआ और काशीपुर पर्वतमाला के जंगलों में आग लग गई। यह क्षेत्र कॉर्बेट पार्क के निकट है।

964 जगहों पर आग लग गई है
उत्तराखंड के मंत्री हरक सिंह रावत ने कहा कि राज्य में 964 आग लगी हैं। मौसम ने स्थिति को और अधिक चुनौतीपूर्ण बना दिया है। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत और मैं मामले पर कड़ी नजर रख रहे हैं। हम हेलीकॉप्टर से आग बुझाने की कोशिश कर रहे हैं।

स्थिति को नियंत्रित करने के लिए 12,000 से अधिक वनकर्मी तैनात हैं
जबकि मुख्यमंत्री रावत ने एक आपातकालीन बैठक में वन अधिकारियों और जिला अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे अपने कर्मचारियों को तब तक छुट्टी नहीं देंगे, जब तक स्थिति नियंत्रण में नहीं आती। मुख्यमंत्री कार्यालय के अनुसार, अग्निशमन अभियान के लिए 12,000 अधिक वन कर्मियों को तैनात किया गया है। वन विभाग के आंकड़े बताते हैं कि 1 अक्टूबर 2020 से 1,359 हेक्टेयर में जंगल में आग लगने की 1,028 घटनाएं हुई हैं। ये घटनाएं नैनीताल, अल्मोड़ा, टिहरी गढ़वाल और पौड़ी गढ़वाल जिलों में देखी गई हैं।

हिमाचल: करसोग में जंगल की आग 2 दिनों से भड़की हुई है
उपमंडल करसोग के पोखी बीट के डेरोल के जंगल में पिछले दो दिनों से जारी जंगलों में लाखों की संख्या में वन संपदा और बगीचे जल गए हैं। अब तक 30 हेक्टेयर भूमि देवदार, बरगद, देवदार और अन्य प्रजातियों के पेड़ों से कट चुकी है।

अन्य खबरें भी है …
Updated: April 5, 2021 — 9:07 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme