Local Job Box

Best Job And News Site

स्थानीय लॉकडाउन के कारण एसी और फ्रिज कंपनियों की बिक्री में लगातार दूसरे साल गिरावट आई है स्थानीय लॉकडाउन के कारण एसी और फ्रिज कंपनियों की बिक्री में लगातार दूसरे साल गिरावट आई है

विज्ञापनों से परेशान हैं? विज्ञापनों के बिना समाचार पढ़ने के लिए दिव्य भास्कर ऐप इंस्टॉल करें

मुंबई33 मिनट पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना
  • उम्मीद थी कि इस साल बिक्री दोगुनी हो जाएगी
  • अब जुलाई-सितंबर सीजन में कंपनियों की उम्मीद hope

देश में एसी, फ्रिज, कूलर जैसी कूलिंग कैटेगरी का बाजार लगातार दूसरे साल ठंडा रहने की उम्मीद है। पिछले साल पेंट-अप की मांग के बाद इस साल बिक्री दोगुनी से दोगुनी होने की उम्मीद थी। लेकिन गर्मी के मौसम की शुरुआत के साथ ही देश के ज्यादातर हिस्सों में लॉकडाउन लगा दिया गया. इसके चलते बिक्री आधी हो गई है।

इस साल की शुरुआत में उम्मीद की जा रही थी कि अप्रैल के बाद एसी-फ्रिज की कीमतों में 10 से 15 फीसदी की बढ़ोतरी होगी। इसे देखते हुए फरवरी-मार्च में खुदरा विक्रेताओं और शोरूम संचालकों ने भारी मात्रा में स्टॉक जमा किया था। भोपाल में एक बड़े इलेक्ट्रॉनिक्स शोरूम के मालिक के मुताबिक अप्रैल और मई में रेफ्रिजरेटर और एसी की सबसे ज्यादा बिक्री होती है. लेकिन पिछले साल शोरूम बंद कर दिए गए थे। और कोरोना की दूसरी लहर ने इस साल बढ़ी हुई बिक्री की आशावाद का रुख मोड़ दिया है।

गोदरेज अप्लायंसेज के एवीपी और कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स एंड अप्लायंसेज मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष कमल नंदी ने कहा, “कोविड की दूसरी लहर पहले से भी ज्यादा दर्दनाक है।” देश के ज्यादातर हिस्सों में लॉकडाउन की वजह से 80 फीसदी से ज्यादा दुकानें बंद हैं. जिससे गर्मी के मौसम के बावजूद कूलिंग कैटेगरी में मांग में गिरावट आई है।

पिछले साल बाजार बंद थे। लेकिन बिक्री 2019 के मुकाबले 45 से 50 फीसदी कम है। उपभोक्ता विश्वास में गिरावट आई है। ऑनलाइन बिक्री में भी गिरावट आई है। ऐसा इसलिए है क्योंकि कई जगहों पर किराने का सामान जैसी जरूरी चीजों को ही ऑनलाइन बेचने की इजाजत है।

इंडस्‍ट्री में फंसे थे लाखों रुपए
कंपनी के एक प्रमुख अधिकारी ने कहा कि उत्पादन में वृद्धि उच्च बिक्री की आशावाद से प्रेरित थी। तांबे जैसे कच्चे माल की बढ़ती कीमतों ने उत्पादन लागत को बढ़ा दिया है। लेकिन करोड़ों रुपये अनसोल्ड इंडस्ट्री में फंसे हैं।

जून के बाद बढ़ेगी डिमांड
अगर लॉकडाउन खुला तो मई के अंत तक बिक्री में तेजी आ सकती है। जून, जुलाई और अगस्त में पैंट-अप की मांग बढ़ने की उम्मीद है क्योंकि उपभोक्ता का विश्वास बढ़ता है। कमल नंदी, अध्यक्ष, CEAMA

एक और खबर भी है…
Updated: May 14, 2021 — 11:02 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme