Local Job Box

Best Job And News Site

इज़राइल हमास युद्ध नवीनतम अद्यतन; गाजा पट्टी समाचार | इसराइल और हमास के बीच लड़ाई के बाद हिंसा में 103 से अधिक मारे गए | इजरायली सेना ने मीडिया में फैलाई गाजा पर हमले की खबर, सुरंगों में छिपे हमास के आतंकी; सुरंग को हवाई हमले से उड़ा दिया गया था

विज्ञापनों से परेशान हैं? विज्ञापनों के बिना समाचार पढ़ने के लिए दिव्य भास्कर ऐप इंस्टॉल करें

4 मिनट पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना
  • गाजा में इजरायली हवाई हमलों ने अल-ज़ज़ारी और एपी . सहित कई मीडिया कार्यालयों को नीचे गिरा दिया
  • फ़िलिस्तीन के समर्थन में हज़ारों लोग लंदन की सड़कों पर जमा हो गए

इज़राइल और हमास (इज़राइल इसे एक आतंकवादी संगठन मानता है) के बीच एक भयंकर युद्ध चल रहा है, जिसमें अब तक 126 लोग मारे जा चुके हैं। जिसमें 31 बच्चे शामिल हैं। दोनों पक्षों के हमलों में अब तक 950 से अधिक लोग घायल हो चुके हैं। मरने वालों में नौ इस्राइली और बाकी फिलीस्तीनी थे। इस बीच, इजरायली रक्षा बल (IDF) एक दिमागी खेल के खिलाफ सामने आया है। आईडीएफ ने शुक्रवार को मीडिया में अफवाह फैला दी कि इजरायली सेना को हमास के आतंकवादियों को मारने के लिए गाजा पट्टी पर हमला करना था।

खबर के वायरल होते ही हमास के आतंकी एक गुफा में छिप गए। फिर करीब 40 मिनट तक 160 इस्राइली लड़ाकू विमान गुफा पर बम बरसा रहे थे। गाजा में इजरायली हवाई हमलों ने अल-जजारी और एपी सहित कई मीडिया कार्यालयों को गिरा दिया। 12 मंजिला इमारत चंद सेकेंड में ढह गई।

आईडीएफ ने दावा किया कि हवाई हमले में हमास के कई कमांडर मारे गए हैं। हवाई हमले के कुछ घंटे बाद सेना ने गाजा पट्टी पर सेना के हताहत होने के लिए मीडिया को जिम्मेदार ठहराया। आईडीएफ ने शुक्रवार को हमास नौसेना बल कार्यालयों के रूप में इस्तेमाल किए जाने वाले अपार्टमेंट पर भी हवाई हमले किए। जिनके 2 घर हमास के सेनापति के कार्यालय के रूप में प्रयुक्त होते थे।

हमास पर 2300 राकेटों से हमला
आईडीएफ ने एक बयान में कहा कि शुक्रवार रात 7 बजे से सुबह 7 बजे के बीच इजरायल पर 200 रॉकेट दागे गए। जिनमें से करीब 100 आर्य गुंबद हवा में ही नष्ट हो गए। ये इस्राएल के आबादी वाले क्षेत्र में विस्फोट किए जाने थे। इनमें से 30 को मिसफायर किया गया और गाजा में उतारा गया। सीरिया से इस्राइल पर 3 रॉकेट भी दागे गए। जिनमें से 1 मिसफायर हो गया था और सीरिया पर गिर गया था। हमास अब तक इस्राइल पर 2300 रॉकेट दाग चुका है।

दंगों में 9 फिलिस्तीनी मारे गए
इजरायल-फिलिस्तीनी युद्ध के बाद दोनों देशों में दंगे भी तेजी से फैल रहे हैं। फिलिस्तीनी स्वास्थ्य विभाग ने शुक्रवार को कहा कि दंगों में लगभग नौ लोग मारे गए हैं। आईडीएफ ने एक बयान में कहा कि उसने गाजा के बाद वेस्ट बैंक से इजरायल पर पत्थर और बम फेंकना शुरू कर दिया है। आईडीएफ के अनुसार, दंगों में 3,000 से अधिक फिलिस्तीनी शामिल हैं। 1966 के बाद पहली बार यहां आपातकाल लगाना पड़ा।

नोरा फतेही इसराइल पर भड़की थीं
बॉलीवुड एक्ट्रेस नोरा ने फिलिस्तीन को लेकर चिंता जताई। उन्होंने कहा कि इजरायल फिलिस्तीन पर हिंसा कर रहा है। नोरा ने इजरायली सुरक्षा बलों पर फिलिस्तीनियों को उनके घरों से बेदखल करने का भी आरोप लगाया।

अमेरिकी सुपरमॉडल बेला हदीद ने भी युद्ध में फ़िलिस्तीन का समर्थन किया, जिसकी कीमत इस मॉडल को महंगी पड़ी। बेला ने सोशल मीडिया पर यहूदियों के खिलाफ एक भयावह पोस्ट शेयर किया। उसने कहा कि इज़राइल एक देश नहीं बल्कि सेना के कब्जे वाला एक उपनिवेश था। फिलिस्तीन मुक्त होना चाहिए।

केरल की महिला का शव दिल्ली पहुंचा
हमास के रॉकेट हमले में मारे गए केरल की महिला का शव दिल्ली पहुंच गया है। केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री मुरलीधरन और इस्राइल के उप उच्चायुक्त रोनी येदिदिया हवाईअड्डे पर उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंचे। हमले में मरने वाली महिला के परिवार के सभी खर्चों की जिम्मेदारी इस्राइल ने ली है। रोनी येदियुरप्पा ने कहा कि सौम्या के परिवार को कम से कम इसराइल द्वारा मुआवजा दिया जाएगा। इसके अलावा, इज़राइल उनकी लागत वहन करेगा।

रविवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक होगी
संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस रविवार को इजरायल-फिलिस्तीनी संघर्ष पर चर्चा के लिए बैठक करने वाले हैं। उन्होंने शक्तिशाली राष्ट्रों की चुप्पी पर शोक व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि दोनों देशों को शांतिपूर्ण समाधान पर पहुंचना चाहिए। इसके लिए राजनीतिक समझौता करने की व्यवस्था की जानी चाहिए।

अन्य खबरें भी है …

Updated: May 15, 2021 — 2:30 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme