Local Job Box

Best Job And News Site

कोरोना के समय में भी भारत मजबूत : अमेरिकी विशेषज्ञ ने बताई वजह | कोरोना के समय में भी भारत मजबूत : अमेरिकी विशेषज्ञ ने बताई वजह reason

विज्ञापनों से परेशान हैं? विज्ञापनों के बिना समाचार पढ़ने के लिए दिव्य भास्कर ऐप इंस्टॉल करें

दुबई20 मिनट पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना
  • अमेरिकी विशेषज्ञ ने कोरोना काल में भारत को बताया ‘सबसे तेज उभरती ताकत’

भारत इस समय कोरोना की एक और लहर का सामना कर रहा है और ऑक्सीजन और बिस्तर की कमी के कारण सैकड़ों लोगों की मौत हो चुकी है। आसपास के मरीज परेशान हैं तो उनके परिजन परेशान हैं। विपक्ष और पश्चिमी मीडिया घरानों ने दावा किया है कि केंद्र सरकार कोविड-19 महामारी से निपटने में विफल रही है, लेकिन सऊदी अरब के एक अखबार की एक रिपोर्ट ने भारत को कोरोना काल में “सबसे तेजी से बढ़ने वाली शक्ति” करार दिया है। इतना ही नहीं इसने पीएम मोदी और बीजेपी दोनों की तारीफ भी की.

सऊदी अखबार अरब न्यूज में एक रिपोर्ट छपी है। जिसमें अमेरिकी विदेश नीति विशेषज्ञ डॉ. जॉन सी. हल्समैन ने भारत की बहुत प्रशंसा की है। उन्होंने कहा है कि कोरो के समय में भी भारत एक शक्तिशाली देश था और इसके लिए उन्होंने कारण बताए हैं.

भारत के पास एक नहीं, कई ताकतें हैं
अरब न्यूज के मुताबिक, भारत अभी भी कोविड-19 मामले में तेज वृद्धि और इससे हुए भारी नुकसान के बावजूद ‘सबसे तेजी से उभरती ताकत’ है। भारत में कई ताकतें हैं जो इसे दुनिया के सबसे शक्तिशाली देशों में से एक बनाती हैं।

कोरो मामले में भी भारत की काफी आलोचना हुई है
हाल के दिनों में कोरो महामारी से ठीक से नहीं निपटने के लिए भारत की काफी आलोचना हुई है। सभी आलोचकों को एक तरफ रखते हुए अमेरिकी विदेश नीति विशेषज्ञ डॉ. जॉन सी. हल्समैन ने अरब न्यूज़ को बताया कि भारत का राजनीतिक ढांचा स्थिर है। उन्होंने यह भी कहा कि पीएम मोदी और भाजपा दोनों राजनीतिक रूप से सुरक्षित हैं जो अन्य विकासशील देशों को भारत से ईर्ष्या कर सकते हैं।

आलोचकों को दरकिनार करते हुए अमेरिकी विदेश नीति विशेषज्ञ डॉ.  जॉन सी. हल्समैन ने अरब न्यूज़ को बताया कि भारत का राजनीतिक ढांचा स्थिर है।

आलोचकों को दरकिनार करते हुए अमेरिकी विदेश नीति विशेषज्ञ डॉ. जॉन सी. हल्समैन ने अरब न्यूज़ को बताया कि भारत का राजनीतिक ढांचा स्थिर है।

राजनीतिक व्यवस्था काफी अनिश्चित है
भारत में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले भारत के स्वास्थ्य ढांचे के लिए एक झटके के रूप में सामने आए हैं। पश्चिमी मीडिया ने भी भारत की आलोचना की है। लेकिन अमेरिकी विशेषज्ञ हेलमैन के मुताबिक भारत की राजनीतिक व्यवस्था पूरी तरह से स्थिर है।

बढ़ती आबादी भारत के लिए भी फायदेमंद: विशेषज्ञ का दावा
अमेरिकी विशेषज्ञों के अनुसार, राजनीतिक रूप से लाभप्रद होने के अलावा, भारत की जनसांख्यिकी भी अपेक्षाकृत अच्छी है। अनुमान है कि 2024 तक भारत की जनसंख्या चीन से अधिक हो जाएगी। भारत की 50 प्रतिशत से अधिक जनसंख्या 25 वर्ष से कम आयु की है और लगभग 65 प्रतिशत जनसंख्या 35 वर्ष से कम आयु की है।

भारतीय अर्थव्यवस्था के आंकड़े सही हैं
अमेरिकी विशेषज्ञ ने अखबार को बताया कि आर्थिक आंकड़े गलत नहीं थे। 2050 तक भारत की जीडीपी दुनिया के 15% के बराबर हो जाएगी। उन्होंने भारतीय अर्थव्यवस्था के पूर्वानुमान का भी उल्लेख किया, जिसे आईएमएफ द्वारा इस वर्ष भारत के सकल घरेलू उत्पाद को 11.5% बढ़ने का अनुमान लगाया गया है।

एक और खबर भी है…
Updated: May 22, 2021 — 11:44 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme