Local Job Box

Best Job And News Site

खाओ, खेलो, सोओ; टोक्यो में खिलाड़ियों की ये है दिनचर्या | खाओ, खेलो, सोओ; टोक्यो में खिलाड़ियों का ये है रूटीन

टोक्यो12 मिनट पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना
  • ऑस्ट्रेलियाई सॉफ्टबॉल टीम का क्वारेंटाइन समय, शुरू हुआ अभ्यास
  • एथलीटों ने कड़े प्रोटोकॉल में रहकर कहा कि यहां का अनुभव अन्य ओलंपिक से काफी अलग है

खाओ, खेलो, सोओ; यह जापान के ओटा में ऑस्ट्रेलियाई सॉफ्टबॉल टीम की दिनचर्या है। महिला टीम टोक्यो ओलंपिक के लिए जापान पहुंचने वाली पहली विदेशी टीम है। खिलाड़ी 1 जून को टोक्यो पहुंचे। वहां से वह ओटा शहर पहुंचे और क्वारंटाइन करने लगे। रोजाना आरटी-पीसीआर टेस्ट किए जाते थे। ज्यादातर समय होटल के कमरों में वीडियो गेम खेलने में बीतता था। क्योंकि मुझे प्रैक्टिस के अलावा और कहीं जाने की इजाजत नहीं थी। जिम में एक बार में सिर्फ 6 खिलाड़ियों को जाने की इजाजत है।

“हम इस समय गिनी सूअरों की तरह हैं, लेकिन यह आवश्यक है,” 27 वर्षीय ताहली मरे कहते हैं। स्वागत पार्टी नहीं थी। मीडिया या प्रशंसकों के साथ कोई बातचीत नहीं। यह अन्य ओलंपिक से अलग अनुभव है।
प्रोटोकॉल इतने सख्त थे कि टीम को मीडिया के जरिए जानकारी मिली
आयोजकों ने एथलीटों की सुरक्षा पर प्रोटोकॉल को इतना कड़ा कर दिया था कि यहां तक ​​कि मैदान के आसपास के निवासियों को भी इस बात का अहसास नहीं था कि कोई विदेशी टीम ओलंपिक की तैयारी के लिए वहां खेल रही है। 2.50 लाख की आबादी वाले शहर में ज्यादातर लोगों को इसकी जानकारी मीडिया के जरिए मिली। 68 वर्षीय रेस्तरां के मालिक ताकाओ सेकिन ने कहा, “मुझे नहीं पता था कि हमारा शहर एक टीम की मेजबानी कर रहा है।” अगर यह कोरोना के लिए नहीं होता, तो ओलंपिक में आने वाले बहुत सारे एथलीट हमारे पास आते और हमारा कारोबार बढ़ता। लेकिन मुझे लोगों के स्वास्थ्य की भी चिंता है। सच कहूं तो ओलंपिक नहीं होना चाहिए। टीम ने होटल में 4 दिन का क्वारंटाइन पूरा कर लिया है। 31 साल की चेल्सी फोर्किन ने कहा: ‘हम टहलने भी नहीं जा सकते। यह हमारी सुरक्षा और दूसरों की सुरक्षा के लिए है। हम सभी प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन कर रहे हैं।

सुरक्षा प्रबंधन से जुड़े 170 लोगों का डाटा लीक
टोक्यो ओलंपिक को एक और झटका लगा है। खेलों के सुरक्षा प्रबंधन से जुड़े करीब 170 लोगों की निजी जानकारी लीक हो गई है। एक जापानी अखबार के मुताबिक, जापान के नेशनल रिबर सिक्योरिटी सेंटर में एक ड्रिल के दौरान डेटा लीक हुआ। केंद्र ने कहा कि खेलों के दौरान साइबर हमले का खतरा था।

एक और खबर भी है…
Updated: June 5, 2021 — 11:24 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme