Local Job Box

Best Job And News Site

कंबोडिया में हजारों लोगों की जान बचाने वाला चूहा अब सेवानिवृत्त हो गया है; कई पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है | कंबोडिया में हजारों लोगों की जान बचाने वाला चूहा अब सेवानिवृत्त हो गया है; कई पुरस्कारों से नवाजा जा चुका है

नोम पेन्ह8 मिनट पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना
  • जहां बारूदी सुरंग के विस्फोटक होने का संदेह था, वहां मगाबा रुक जाएगा, फिर जमीन खोदेगा।
  • 71 बारूदी सुरंगों और 38 विस्फोटकों को खोजने वाला मगाबा अब थक चुका है

आपने कई बार स्निफर डॉग शब्द सुना होगा। इस तरह का कुत्ता आपने देखा होगा। यह पुलिस, सेना या बचाव दल के साथ उनके संचालन के दौरान पाया जाता है। उन्हें सूंघने की शक्ति हर साल सैकड़ों हजारों लोगों की जान बचाती है। लेकिन क्या आपने कभी ऐसे ‘चूहे के दस्ते’ या चूहे के बारे में सुना है जो खोजी कुत्तों की तरह सैकड़ों लोगों की जान बचाता है? यह चूहा एक-दो नहीं बल्कि पांच साल से ऐसा कर रहा है। तो आज हम ऐसे ही एक चूहे के बारे में बात करने जा रहे हैं।

पहले यह जान लें
कंबोडिया के गृहयुद्ध के दौरान जंगलों में हजारों बारूदी सुरंगें लगाई गईं। यहां से गुजरने वाले ज्यादातर लोगों के पैर इसी पर थे। प्रेशर आते ही लैंड माइंस फट जाती है या फट जाती है। दुनिया भर में इसे लेकर व्यापक चिंता थी। खास बात यह है कि ये बारूदी सुरंगें उस इलाके में थीं, जहां विश्व प्रसिद्ध अंगकोर वाट मंदिर स्थित है। दुनिया भर से पर्यटक भी यहां आए थे। कंबोडिया स्वाभाविक रूप से एक बहुत ही खूबसूरत देश है। इसलिए यहां बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं।

बहुत नेक मगबा
कंबोडिया में मगाबा की सूंघने की दर है। कंबोडियाई सरकार बारूदी सुरंगों से बहुत परेशान थी। यह इस समय था कि एक बेल्जियम चैरिटी संगठन (एपीओपीओ) एक महान विचार के साथ आया था। उन्होंने तंजानिया से एक विशेष नस्ल के कुछ चूहे खरीदे। उनकी गंध की भावना असाधारण थी। APOPO के स्वयंसेवकों ने उसे प्रशिक्षण देना शुरू किया। इन्हीं चूहों में से एक मगाबा को कंबोडिया भेजा गया था। स्वयंसेवक भी उनके साथ गया।

मगाबा के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए यादगार
एपीओपीओ के प्रोग्राम मैनेजर माइकल हाइमन कहते हैं कि मागाबा, जिसने 71 बारूदी सुरंगें और 38 विस्फोटक खोजे हैं, थक गया है। वह सात साल का है। पांच साल में उन्होंने 2 लाख 25 हजार वर्ग मीटर में काम किया है और हजारों लोगों की जान बचाई है. यह 42 फुटबॉल मैदानों के बराबर है। हमने उन्हें रिटायर करने का फैसला किया है। वह अब जो कुछ भी पसंद करता है, जैसे केला और अन्य खाद्य पदार्थ खाने के लिए स्वतंत्र है। बेशक यह अभी भी बहुत कुछ फिट बैठता है। लेकिन उम्र का असर दिखना शुरू हो गया है।

कई सम्मान मिले हैं honor
2016 में जब मगाबा को कंबोडिया लाया गया तब वह महज 2 साल के थे। यहां आने से पहले तंजानिया की एक केमिकल फैक्ट्री में भी इसका इस्तेमाल होता था। उन्हें पिछले साल सितंबर में रोडेंट अवॉर्ड से नवाजा गया था। इसके अलावा उन्हें कई सम्मान भी मिल चुके हैं।

चूहा बहुत सावधान था
मगाबा के प्रशिक्षक का कहना है कि वह निर्धारित क्षेत्र में घूमता था। उसके साथ स्वयंसेवक। जहां बारूदी सुरंग के विस्फोटक होने का संदेह था, वहां मगाबा रुक जाएगा, फिर जमीन खोदेगा। फिर वह वहां से हट जाता और कर्मचारी बारूदी सुरंग को साफ कर देते। हाइमन का कहना है कि हम इस चूहे को बहुत मिस करेंगे। वह एक असाधारण चूहा है।

एक और खबर भी है…
Updated: June 7, 2021 — 6:44 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme