Local Job Box

Best Job And News Site

RINFRA ने रुपये तक की धनराशि जुटाने को मंजूरी दी। 8.88 करोड़ इक्विटी शेयरों के तरजीही आवंटन द्वारा 550.56 करोड़ | रिलायंस इंफ्रा. तरजीही शेयरों से जुटाएंगे 550 करोड़ रुपये की पूंजी, साल में पहले घटा घाटा

  • गुजराती समाचार
  • व्यापार
  • RINFRA ने रुपये तक की धनराशि जुटाने को मंजूरी दी। 550.56 करोड़ 8.88 करोड़ इक्विटी शेयरों के अधिमान्य आवंटन द्वारा

कुछ पल पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना

जनवरी से मार्च के दौरान कंपनी का रेवेन्यू भी बढ़ा।

रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर का कर्ज मार्च तिमाही में घटकर 46.53 करोड़ रुपये रह गया। पिछले साल की समान अवधि में कंपनी को 153.84 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था। अब अनिल अंबानी इस कर्ज से बाहर निकलने की कोशिश में हैं। अनिल अंबानी ने अब रिलायंस इंफ्रा फंड जुटाने का फैसला किया है। रविवार को बोर्ड की बैठक में बोर्ड ने तरजीही शेयरों के जरिए 550.56 करोड़ रुपये जुटाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी।

रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (आरइन्फ्रा) के निदेशक मंडल (बीओडी) की बैठक में रविवार को तरजीही आधार पर शेयर जारी कर 550.56 करोड़ रुपये जुटाने की योजना को मंजूरी दी गई। कंपनी ने एक बयान में कहा कि इस फंड का इस्तेमाल सामान्य कॉरपोरेट उद्देश्यों को हासिल करने, भविष्य की वृद्धि में तेजी लाने और कर्ज घटाने में किया जाएगा। फंड को 8.88 करोड़ इक्विटी शेयरों के तरजीही आवंटन के साथ-साथ कंपनी और वीएफएसआई होल्डिंग पीटीई लिमिटेड, जो वर्डे इन्वेस्टमेंट पार्टनर्स से संबद्ध है, के समान संख्या में इक्विटी शेयरों के लिए वारंट के प्रमोटर समूह को जारी किया जाएगा। कंपनी के सदस्यों ने कल हुई बैठक में पोस्टल बैलेट के जरिए इन प्रस्तावों को मंजूरी दी।

नुकसान हुआ कम
मार्च तिमाही में रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर का घाटा घटकर 46.53 करोड़ रुपये रह गया। पिछले साल की समान अवधि में कंपनी को 153.84 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था। हाल ही में, कंपनी ने जनवरी-मार्च तिमाही में 4,610.72 करोड़ रुपये की राजस्व वृद्धि दर्ज की। पिछले साल इसी अवधि के दौरान 4,012.87 करोड़।

रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड के बारे में
रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड बिजली, सड़क और मेट्रो रेल जैसे उच्च विकास वाले क्षेत्रों में विशेष परिधीय वाहनों (एसपीवी) के माध्यम से विकास परियोजनाओं पर काम कर रहे बुनियादी ढांचा क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है। कंपनी का रक्षा क्षेत्र में भी व्यापक संचालन है। कंपनी बिजली, बुनियादी ढांचे, मेट्रो और सड़क परियोजनाओं के लिए इंजीनियरिंग और निर्माण (ई एंड सी) सेवाएं भी प्रदान कर रही है।

एक और खबर भी है…
Updated: June 7, 2021 — 5:18 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme