Local Job Box

Best Job And News Site

संयुक्त अरब अमीरात में तापमान 51 डिग्री के पार | यूएई में तापमान 51 डिग्री के पार

दुबई2 घंटे पहलेलेखक: शनीर सिद्दीकी

  • प्रतिरूप जोड़ना
  • अगर बच्चों को कार में अकेला छोड़ दिया जाता है, तो माता-पिता को 10 साल की सजा और 2 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा।

यूएई में इस समय हीट केयर प्रचलन में है। रविवार को अल अन के सुहाना में पारा 51.8 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। यह सीजन का सबसे गर्म दिन रहा। पिछले शुक्रवार को यहां पारा भी 51 डिग्री था। राष्ट्रीय मौसम विज्ञान केंद्र (एनसीएम) के एक प्रवक्ता ने कहा कि जून में तापमान मई की तुलना में 2-3 डिग्री अधिक था। यह कहना जल्दबाजी होगी कि क्या संयुक्त अरब अमीरात अब तक का सबसे गर्म वर्ष देखेगा।

जुलाई 2002 में पिछला तापमान 52.1 डिग्री था लेकिन 3 दिन में दो बार 51 डिग्री पहुंचना भी नई बात है। यूएई के खगोलशास्त्री हसन अल-हरीरी ने कहा कि सूर्य 2020 के बाद से अपने अधिकतम सक्रिय चक्र में प्रवेश कर चुका है। यही गर्मी का कारण है। आंकड़ों और विश्लेषण के बिना भी यह कहना मुश्किल है।

दूसरी ओर, अबू धाबी पुलिस ने चेतावनी दी कि माता-पिता या अभिभावक के लिए किसी भी कारण से बच्चे को कार में छोड़ना दंडनीय अपराध होगा। ऐसे लोगों को 10 साल तक की जेल और 10 लाख दिरहम (2 करोड़ रुपये) तक का जुर्माना हो सकता है।

बाहर का तापमान 40 डिग्री हो सकता है जबकि कार के अंदर का तापमान 60 डिग्री हो सकता है: विशेषज्ञ
विशेषज्ञों का कहना है कि इतनी गर्मी में बच्चों को कार में छोड़ना घातक हो सकता है क्योंकि बाहर का तापमान 40 डिग्री और अंदर का तापमान सिर्फ 10 मिनट में 60 डिग्री तक पहुंच सकता है। लू लगने और दम घुटने से बच्चों की जान जा सकती है। सरकारी रिकॉर्ड के मुताबिक, हर साल औसतन 40 बच्चों की मौत हो जाती है। सबसे बड़ी बात यह है कि 55% माता-पिता को इस तरह के खतरे की जानकारी नहीं है।

एक और खबर भी है…
Updated: June 8, 2021 — 12:24 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme