Local Job Box

Best Job And News Site

युवराज सिंह ने भारतीय कप्तानी पर खुलासा किया चौंकाने वाला विवरण, एमएस धोनी से पहले कप्तान नामित होने की उम्मीद है | कहा- 2007 टी-20 वर्ल्ड कप का कप्तान बनने की उम्मीद थी; लेकिन धोनी ने

  • गुजराती समाचार
  • खेल
  • क्रिकेट
  • युवराज सिंह ने भारतीय कप्तानी पर चौंकाने वाला खुलासा किया, कहा एमएस धोनी से पहले कप्तान नामित होने की उम्मीद

एक घंटे पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना

भारतीय क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडरों की सूची में युवराज सिंह का सबसे बड़ा खुलासा। युवराज ने कहा कि वह 2007 टी-20 विश्व कप में कप्तान बनने की उम्मीद कर रहे थे। लेकिन पानी फिर से चालू हो गया। चयनकर्ताओं ने महेंद्र सिंह धोनी को कप्तान बनाया। भारत ने दक्षिण अफ्रीका में आयोजित टूर्नामेंट में इतिहास रच दिया और फाइनल में पाकिस्तान को हराकर विश्व कप में अपना नाम बनाया।

वनडे वर्ल्ड कप हारने के बाद बिगड़ गया था टीम का संतुलन
युवराज ने 22 गज के पोडकास्ट में कहा, “2007 के वनडे विश्व कप में हमें करारी हार का सामना करना पड़ा था।” हार के बाद भारतीय टीम को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा। फिर हमें इंग्लैंड के 2 महीने के दौरे पर जाना पड़ा। इस बीच दक्षिण अफ्रीका और आयरलैंड का एक महीने का दौरा भी था। इसके बाद टी-20 वर्ल्ड कप हुआ। हम इस टूर्नामेंट से केवल 4 महीने दूर थे।

ऑस्ट्रेलिया पर जीत के बाद जश्न मनाते धोनी के साथ युवराज सिंह (बाएं) की तस्वीरPicture

ऑस्ट्रेलिया पर जीत के बाद जश्न मनाते धोनी के साथ युवराज सिंह (बाएं) की तस्वीरPicture

जब सीनियर्स को आराम दिया गया तो मैंने सोचा कि मैं कप्तान बनूंगा
युवराज ने कहा कि टीम के कई सीनियर्स ने विश्व कप से पहले ब्रेक लेने का फैसला किया था और टी-20 विश्व कप को गंभीरता से नहीं लिया। मेरे साथ ऐसा हुआ कि अगर सभी सीनियर आराम कर रहे हों तो मुझे कप्तान के रूप में चुना जाएगा, लेकिन उम नहीं हुआ और धोनी के नाम की घोषणा की गई।

द्रविड़ और सचिन ने खारिज की कप्तानी
द्रविड़ ने 2007 में कप्तान के पद से इस्तीफा दे दिया था। द्रविड़ ने टी20 वर्ल्ड कप से ब्रेक लेने की इच्छा भी जताई। इस बारे में जब सचिन तेंदुलकर से पूछा गया तो उन्होंने भी इनकार कर दिया। तेंदुलकर ही थे जिन्होंने धोनी को कप्तान बनाने का जिक्र किया था। बीसीसीआई ने इसके बाद से कप्तानी धोनी को सौंप दी है। यह निर्णय तब से भारतीय क्रिकेट के लिए एक मास्टर स्ट्रोक रहा है और इस घटना पर बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष शरद पवार ने कई बार चर्चा की है।

युवराज ने 2007 विश्व कप में इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर में छह छक्के लगाए थे।

युवराज ने 2007 विश्व कप में इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर में छह छक्के लगाए थे।

धोनी बने कप्तान, पर दोस्ती बरकरार
युवराज ने कहा, ‘धोनी भले ही कप्तान बने, लेकिन हमारी दोस्ती जस की तस बनी रही। जो भी टीम का कप्तान बने, हमें उसका समर्थन करना चाहिए। चाहे वह गांगुली हो, द्रविड़ हो या कोई और खिलाड़ी। एक अच्छा टीम मैन होना चाहिए और मैंने भी ऐसा ही किया।

युवराज ने शेयर किया जहीर खान का दिलचस्प मामला
युवराज ने जहीर के बारे में कहा कि गांगुली, द्रविड़ और सचिन ने टी-20 वर्ल्ड कप से ब्रेक लिया था. जहीर खान ने इसके बाद बीसीसीआई को अपने फैसले की जानकारी दी और आराम की अपील की। जहीर ने कहा, ‘मैं लंबे समय से क्रिकेट खेल रहा हूं।

2011 वनडे विश्व कप के दौरान जहीर खान और युवराज सिंह।

2011 वनडे विश्व कप के दौरान जहीर खान और युवराज सिंह।

गेल के शतक के दौरान टीम में न रहकर खुश हैं जहीर
यूवीए ने कहा कि टी-20 विश्व कप का पहला मैच वेस्टइंडीज और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ था। इसके बाद क्रिस गेल ने 50-55 गेंदों में शतक बनाया। यह देख जहीर ने मुझे रात को फोन किया और कहा कि अच्छा हुआ कि मैंने इस टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं लिया। फिर हमने वर्ल्ड कप जीता और जिस रात से हम जीते हैं वो मुझे मैसेज कर रहा था कि अरे नहीं यार! मुझे इस टूर्नामेंट में भाग लेना चाहिए था।

टी-20 वर्ल्ड कप के फाइनल में भारत ने पाकिस्तान को 5 रन से हराया
भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने 54 गेंदों में 75 रन की पारी खेली जिससे भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 5 विकेट पर 157 रन बनाए। जवाब में पाकिस्तान 19.3 ओवर में 152 रन पर ऑल आउट हो गया। मिस्बाह उल हक ने 38 गेंदों में 43 रन बनाए। इरफान पठान और आरपी सिंह ने तेजी से 3-3 विकेट लिए।

2007 टी-20 विश्व कप ट्रॉफी के साथ भारतीय टीम की तस्वीर

2007 टी-20 विश्व कप ट्रॉफी के साथ भारतीय टीम की तस्वीर

हमने टी-20 वर्ल्ड कप से पहले ज्यादा अभ्यास नहीं किया था
युवराज ने कहा, ‘टीम इंडिया ने अभ्यास नहीं किया क्योंकि हम युवा टीम थे। हमारे पास एक अंतरराष्ट्रीय कोच भी नहीं था। लालचंद राजपूत हमारे कोच थे और वेंकटेश प्रसाद गेंदबाजी कोच थे। हम युवा कप्तान और टीम के साथ दक्षिण अफ्रीका पहुंचे। हम सिर्फ इस टूर्नामेंट का आनंद लेने आए हैं।

युवराज ने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली आक्रामक पारी
युवराज ने टूर्नामेंट में इंग्लैंड के खिलाफ स्टुअर्ट ब्रॉड के ओवर में छह गेंदों पर छह छक्के लगाए। इसके बाद भारतीय टीम ने सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया को हराया। यूवीए ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 30 गेंदों में 70 रन बनाए।

एक और खबर भी है…
Updated: June 10, 2021 — 7:50 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme