Local Job Box

Best Job And News Site

2 स्पिनर और 3 तेज गेंदबाजों के साथ फील्डिंग कर सकती है टीम इंडिया, तेज गेंदबाजों पर भरोसा कर सकती है न्यूजीलैंड | 2 स्पिनर और 3 तेज गेंदबाजों के साथ फील्डिंग कर सकती है टीम इंडिया, तेज गेंदबाजों पर भरोसा कर सकता है न्यूजीलैंड

साउथेम्प्टन२३ मिनट पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना

भारत और न्यूजीलैंड के बीच वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल 18 जून से साउथेम्प्टन के द एजिस बाउल स्टेडियम में खेला जाएगा। दोनों टीमों के प्लेइंग-11 में कौन से खिलाड़ी होंगे, इस पर सभी विशेषज्ञों और प्रशंसकों की निगाहें हैं। तो भारत और न्यूजीलैंड की ताकत और साउथेम्प्टन की परिस्थितियों के आधार पर आइए जानते हैं कि इस मैच में किन खिलाड़ियों को मौका मिल सकता है।

साहा और उमेश को मौका मिलने की संभावना नहीं
फाइनल के लिए भारत की ओर से घोषित 15 नामों में से दो खिलाड़ियों को मौका मिलने की उम्मीद कम है। खिलाड़ी हैं विकेटकीपर रिद्धिमान साहा और तेज गेंदबाज उमेश यादव। साहा को फाइनल 15 में चुनने का मुख्य कारण यह हो सकता है कि मैच के दौरान ऋषभ पंत के चोटिल होने पर वह विकेटकीपिंग कर सकते हैं। अब क्रिकेट में स्थानापन्न विकेटकीपरों की अनुमति है। उमेश एक अच्छे आउटफील्डर हैं। इसे एक स्थानापन्न क्षेत्ररक्षक के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। साथ ही ये दोनों खिलाड़ी तभी काम पर आ सकते हैं जब किसी रिप्लेसमेंट की जरूरत हो।

विहारी सिर्फ 7 बल्लेबाजों की स्थिति में खेल पाएंगे
हनुमा विहारी के खेले जाने की संभावना भी बहुत कम है। हालांकि, अगर पिच पर हरियाली अधिक रहती है और आसमान में लंबे समय तक बादल छाए रहने की संभावना रहती है, तो भारत 7 बल्लेबाजों और 4 गेंदबाजों की रणनीति अपना सकता है। इस स्थिति में ही शोक संतप्त लोगों को मौका मिल सकता है। अब तक जो जानकारी सामने आ रही है उसके मुताबिक विहारी भी प्लेइंग-11 से बाहर हो जाएगी.

सबसे अधिक संभावना 6-2-3 संयोजन
फाइनल में भारतीय टीम का सबसे चर्चित संभावित संयोजन 6-2-3 है। यानी 6 बल्लेबाज (पंत समेत), 2 स्पिन और 3 तेज गेंदबाज। इसलिए विहारी, साहा और उमेश के अलावा बाकी 12 खिलाड़ियों में से प्लेइंग-11 को चुनना संभव है.

इशांत, शमी और मिराज को मिल सकता है मौका
टीम इंडिया के अंतिम चयन में और मुश्किल तेज गेंदबाजों के चयन में देखी जा सकती है। जसप्रीत बुमराह ने पिछले कुछ सालों में जिस तरह से प्रदर्शन किया है, उससे उनकी पसंद लगभग तय हो गई है। इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और मोहम्मद सिराज में से किन्हीं दो तेज गेंदबाजों को मौका मिल सकता है। कुछ विशेषज्ञों का मानना ​​है कि ईशांत और सिराज में से किसी एक को चुना जाएगा जबकि कुछ का मानना ​​है कि सिराज और शमी में से किसी एक को खेला जा सकता है।

न्यूजीलैंड के टॉप-6 खिलाड़ी भी लगभग तय
भारत की तरह न्यूजीलैंड के भी टॉप-6 खिलाड़ी लगभग तय हैं। टॉम लैथम और दावो कॉनवे खुलेंगे। इसके बाद कप्तान केन विलियमसन, रॉस टेलर और जैक निकोल्स का स्थान होगा। नंबर 6 पर विकेटकीपर एक और वाटलिंग (यदि फिट हो) से खेलेगा।

अवधवा में न्यूजीलैंड सातवें नंबर पर
न्यूजीलैंड मैच से पहले यह साफ नहीं है कि सातवें नंबर पर किसे उतारा जाएगा। अगर कीवी टीम बल्लेबाजी को मजबूत करना चाहती है तो इस नंबर पर ऑलराउंडर कॉलिन डी ग्रैडहोम खेलेंगे। कीवी टीम के विशेषज्ञ चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरते हैं तो काइल जैमीसन को इस नंबर पर बल्लेबाजी करनी पड़ सकती है।

अगर ग्रैडहोम खेलता है, तो पटेल और वैगनर में से किसी एक को मौका मिलेगा
अगर कीवी ग्रेडहोम को शामिल किया जाता है, तो बाएं हाथ के स्पिनर अयाज पटेल और बाएं हाथ के तेज गेंदबाज नील वैगनर में से केवल एक को मौका मिलेगा। अयाज पटेल को छोड़ दिए जाने पर कीवी हमले के एक आयामी होने का खतरा है।

यह लगभग तय है कि जैमीसन, साउथी और बोल्ट खेलेंगे
यह लगभग तय है कि न्यूजीलैंड के तीन विशेषज्ञ तेज गेंदबाज खेलेंगे, जिनमें काइल जैमीसन, टिम साउथी और ट्रेंट बोल्ट शामिल हैं। जेम्स ने अपने करियर के पहले दो टेस्ट भारत के खिलाफ खेले और बहुत अच्छा प्रदर्शन किया। साउथी और बोल्ट को जहां कीवी टीम का सबसे बड़ा हथियार माना जाता है, वहीं मौजूदा फिट के लिहाज से उनका खेलना लगभग तय है।

दोनों टीमों का संभावित खेल-11
भारत विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, ऋषभ पंत, रवींद्र जडेजा, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह।

न्यूज़ीलैंडઃ केन विलियमसन (कप्तान), टॉम लैथम, डेवोन कॉनवे, रॉस टेलर, हेनरी निकोल्स, बिजी वाटलिंग, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, काइल जैमीसन, टिम साउथी, अयाज पटेल और ट्रेंट बोल्ट।

एक और खबर भी है…
Updated: June 17, 2021 — 11:53 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme