Local Job Box

Best Job And News Site

अगर एक पिता अपने बच्चे को गणित, संगीत और हास्य की भावना दे सकता है तो कोई बड़ा उपहार नहीं है … यह भी मेरे पिता की विरासत है | अगर एक पिता अपने बच्चे को गणित, संगीत और हास्य की भावना दे सकता है तो कोई बड़ा उपहार नहीं है … यह भी मेरे पिता की विरासत है

नई दिल्लीएक घंटे पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना
  • एआई के दादा मार्विन मिन्स्की अपने बेटे को पिता के रूप में अपनी उपलब्धियों के बारे में बता रहे हैं

अब हम अपने आस-पास कई चीजों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) तकनीकों का उपयोग देखते हैं। भविष्य में इसका दायरा बढ़ता रहेगा, लेकिन एआई के जनक मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ अमेरिका। प्रौद्योगिकी के प्रो. मार्विन मिन्स्की ने 1950 और 60 के दशक में इसकी कल्पना की थी।

आज इंटरनेशनल फादर्स डे पर हम उनके बेटे हेनरी से सीखते हैं कि दुनिया को अपना भविष्य देने वाले प्रतिभाशाली बेटे को विरासत में क्या मिला है? हेनरी और उनकी भारतीय मूल की पत्नी मिलन एआई-आधारित स्टार्ट-अप Leela.HI चलाते हैं। भास्कर के रितेश शुक्ला के साथ हेनरी मिन्स्की की विशेष बातचीत के अंश-

  • आपके पिता एआई के दादा हैं। आपको कब एहसास हुआ कि वे जीनियस हैं?

एक दिन जब मैं 8 साल का था, मेरी बहन मुझसे 4 साल बड़ी थी और मैं चुपचाप एक झूमर से एक रॉकेट बनाने की कोशिश कर रहा था। पापा जब आए तो हम डर गए लेकिन उन्होंने नाराज नहीं किया और कहा कि उन्हें झूमर से ज्यादा ताकतवर चीज चाहिए। वे बेसमेंट से पेट्रोल की तरह तरल की एक बोतल लाए और हमारे सामने एक रॉकेट उड़ा दिया। तभी मुझे एहसास हुआ कि मैं उनकी छत्रछाया में सुरक्षित हूं। इसलिए मैं भी उनके काम और प्रयोगों में शामिल हुआ। पिताजी 12-13 वर्ष के थे जब उन्होंने बच्चे को बाल मनोविज्ञान, मशीनों के सिद्धांतों को सिखाने की कोशिश करते देखा। उस समय रोबोट जैसी मशीन को चिह्नित करने का प्रयास किया गया था। मैं बच्चों को प्रयोग में शामिल करने में शामिल हो गया। वे मशीनों को इंसानों की तरह सोचने और महसूस कराने की कोशिश कर रहे थे। यह उस समय अविश्वसनीय था और तभी मुझे एहसास हुआ कि वे प्रतिभाशाली थे।

  • आपको उनके बारे में सबसे अच्छा क्या याद है?

मेरे पैदा होने से पहले से ही वे एमआईटी में गणित और कंप्यूटर विज्ञान के प्रोफेसर थे। गणित का मजा लेने पर लोग उससे डरते हैं। वे पियानो भी बहुत अच्छे से बजाते थे।

आपके जीवन में आपके पिता का क्या योगदान है?
उन्होंने मुझे गणित में रुचि जगाई, जिसके लिए मैं सदैव उनका ऋणी रहूंगा। इसी रुचि के कारण मुझे MIT में जाने का अवसर मिला। उन्होंने कहा कि गणित दुनिया का सबसे आसान विषय है, बस शिक्षक इसे कठिन बना देते हैं। मुझे लगता है कि अगर एक पिता अपने बच्चों को गणित, संगीत और चुटकुले सीखने की क्षमता दे सकता है तो इससे बड़ा उपहार कोई नहीं हो सकता। तीनों योग्यता और ईमानदारी चाहते हैं।

एक और खबर भी है…
Updated: June 19, 2021 — 11:20 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme