Local Job Box

Best Job And News Site

लेबर पार्टी ने प्रचार सामग्री पर हाथ मिलाते हुए मोदी और जॉनसन की तस्वीर पोस्ट की, लिखा- इनसे सावधान रहें लेबर पार्टी ने चुनाव प्रचार पत्रक पर हाथ मिलाते हुए मोदी और जॉनसन की तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा- इनसे सावधान रहें

लंडन12 मिनट पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना
  • ब्रिटेन के वेस्ट यॉर्कशायर में बोतल और स्पेन में उपचुनाव गुरुवार को होने वाले हैं

इंग्लैंड के उत्तर में उपचुनाव के लिए पार्टी की प्रचार सामग्री में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर के इस्तेमाल से हड़कंप मच गया है. लेबर पार्टी ने कंजरवेटिव पार्टी के नेता और ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन से हाथ मिलाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इस्तेमाल की गई प्रचार सामग्री का इस्तेमाल किया है। इसमें पीएम मोदी यानि सत्ताधारी पार्टी से दोस्ती करने वाली पार्टी ने सांसद से भागने की बात कही है. लेबर पार्टी का कहना है कि अगर वहां के लोग किसी अन्य पार्टी को वोट देते हैं तो ऐसी तस्वीर देखने का जोखिम है, हालांकि लेबर पार्टी इस मामले पर स्पष्ट है।

भारतीय संगठनों ने इसे भारत विरोधी बताया
लेबर पार्टी ने मोदी के विरोध के जरिए वोट हासिल करने के लिए ऐसा किया है। इसके सामने आने के बाद भारतीय समूह ने लेबर पार्टी को विभाजनकारी और भारत विरोधी करार दिया है। भारतीय समुदाय के संगठन द कंजर्वेटिव फ्रेंड्स ऑफ इंडिया (सीएफआईएन) ने कहा, “प्रिय कीर स्टारर, क्या आप इस प्रचार सामग्री को परिभाषित कर सकते हैं और स्पष्ट कर सकते हैं कि क्या कोई प्रधानमंत्री या लेबर पार्टी का नेता दुनिया के साथ कोई संबंध रखने से इनकार करेगा। सबसे बड़ा लोकतंत्र?” क्या ब्रिटेन में भारतीय समुदाय के 15 लाख से अधिक सदस्यों के लिए यह आपका संदेश है?

प्रचार सामग्री में क्या है, प्रलाप क्यों?
ब्रिटेन के वेस्ट यॉर्कशायर में बोतल और स्पेन में उपचुनाव गुरुवार को होने हैं। यहां के सांसद सत्तारूढ़ कंजरवेटिव पार्टी के रिचर्ड होल्डन हैं। लेबर पार्टी ने एक प्रचार पत्रक लगाया है जिसमें मोदी और बोरिस जॉनसन की हाथ मिलाते हुए तस्वीर है।

यह तस्वीर 2019 में जी7 शिखर सम्मेलन की है। इसमें टोरी के सांसद रिचर्ड होल्डन के बारे में एक संदेश है कि लोगों को ऐसे लोगों से दूर रहना चाहिए। लेबर पार्टी भारतीय प्रधानमंत्री का विरोध करती दिख रही है।

यहां देखिए सांसद ने खुद पोस्ट की तस्वीर
रूढ़िवादी नेता और टोरी सांसद रिचर्ड होल्ड ने ट्विटर पर एक तस्वीर पोस्ट कर सोशल मीडिया पर उनसे पूछा कि क्या इसका मतलब यह है कि लेबर नेता सर किर स्टुरमर भारतीय प्रधान मंत्री से हाथ मिलाते नहीं दिखाई देंगे।

लेबर पार्टी में भी विरोध
इस प्रचार सामग्री को लेकर पार्टी नेताओं में नाराजगी भी है। लेबर फ्रेंड्स ऑफ इंडिया (एलएफआईएन) ने उनकी तत्काल वापसी की मांग की है। LFIN ने एक बयान में कहा कि पार्टी के लिए अपने पत्रक पर 2019 G-7 शिखर सम्मेलन में भारत के प्रधान मंत्री, दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्रों में से एक और ब्रिटेन के सबसे करीबी दोस्तों में से एक की तस्वीर का उपयोग करना उचित नहीं था। भारतीय मूल के एक वरिष्ठ लेबर सांसद वीरेंद्र शर्मा ने भी इस कदम की आलोचना की है।

एक और खबर भी है…
Updated: June 30, 2021 — 5:15 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme