Local Job Box

Best Job And News Site

महामारी के कारण मार्च में बैंकों का सकल एनपीए बढ़कर 9.8 प्रतिशत हुआ: आरबीआई | महामारी के कारण मार्च में बैंकों का सकल एनपीए बढ़कर 9.8 प्रतिशत हुआ: आरबीआई

मुंबई22 मिनट पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना

कोरोना महामारी की दूसरी लहर में आर्थिक नुकसान की वजह से मार्च में बैंकों का ग्रॉस एनपीए बढ़कर 9.8 फीसदी हो गया। जो पिछले साल 7.48 फीसदी था। भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा जारी वित्तीय स्थिरता रिपोर्ट के अनुसार, तनावपूर्ण माहौल के बीच निकट भविष्य में बैंकों की सकल गैर-निष्पादित संपत्ति बढ़कर 11.22 प्रतिशत होने की संभावना है। सूक्ष्म क्षेत्र में ईएमआई के भुगतान में देरी के मुद्दे ने दबाव बढ़ा दिया है। नतीजतन, बैंकों के सकल एनपीए मार्च, 2021 में 7.48 प्रतिशत से बढ़कर मार्च, 2022 में 9.80 प्रतिशत होने की उम्मीद है।

हालांकि, बैंकों के पास समग्र रूप से और व्यक्तिगत स्तर पर पर्याप्त पूंजी है। एफएसआर ने जनवरी में जारी एक बयान में कहा कि आधारभूत मानदंड के तहत सितंबर, 2021 तक जीएनपी बढ़कर 13.5 प्रतिशत हो जाएगा। जो 22 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच जाएगा। सरकारी बैंकों का सकल एनपीए मार्च में 9.54 फीसदी से बढ़कर अगले साल मार्च में 12.52 फीसदी हो जाएगा। निजी क्षेत्र के बैंकों में, जीएनपी 5.82 प्रतिशत से बढ़कर 6.04 प्रतिशत हो गया।

एक और खबर भी है…
Updated: July 2, 2021 — 10:51 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Local Job Box © 2021 Frontier Theme